डेल्टा प्लस वेरिएंट की पूरी जानकारी Delta Plus virus

भारत में भी डेल्टा प्लस वैरिएंट अपनी दस्तक दे चुका है और तेजी से फैल भी रहा है ! दिल्ली से के पास फरीदाबाद, तमिलनाडु ,महाराष्ट्र, और मध्य प्रदेश में Delta Plus Variants से कई लोग संक्रमित हो चुके हैं ! नए डेल्टा प्लस वेरिएंट के मामलों में लगातार बढ़ोतरी से एक बार फिर से खतरे की घंटी बज गई है !

बहुत ही तेजी से अपने पांव पसार रहा है यह डेल्टा प्लस वेरिएंट Delta Plus Variants in hindi

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट अपनी स्थानिय भाषा में समझा जाय तो कोरोनों का नया रूप है ! जो की डेल्टा प्लस को बहुत ही खतरनाक वैरिएंट बताया जा रहा है ! ऐसा कहा जाता है की डेल्टा प्लस वैरिएंट कोरोनो से भी तेजी से फैलने वाला वायरस है ! यहां तक कि इस वैरिएंट को 60 प्रतिशत और ज्यादा संक्रामक और घातक बताया जा रहा है ! डेल्टा प्लस वैरिएंट कोरोना का बहुत ही एक नया घातक रूप है ! यह बहुत तेजी से फैलने वाला वायरस है ! और डेल्टा प्लस वैरिएंट संक्रमित रोगी ‌के फेफड़ों की कोशिकाओं से बहुत ही मजबूती से चिपकता है ! वहीं इससे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी कमजोर हो जाती है ! ऐसे में इस वायरस को लेकर विशेषज्ञ भी काफी चिंतित हुए हैं !

कहा कहा पर फैला हुआ है डेल्टा वेरिएंट  (Where is the Delta variant spread over? )

डेल्टा प्लस वेरिएंट जो अभी तक 9 देशों में पाया गया है केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार ! इन राज्यों में डेल्टा प्लस वेरिएंट को ध्यान में रखते हुए एडवाइजरी भी जारी कर दी गई है ! इस डेल्टा प्लस वेरिएंट भारत के साथ साथ अमेरिका, ब्रिटेन, पुर्तगाल, स्विटजरलैंड, जापान, पोलैंड, नेपाल, चीन और रूस में भी पाया गया है ! यह डेल्टा प्लस वेरिएंट वैक्सीन और इम्युनिटी दोनों को ही चकमा दे सकता है !
इंडोनेशिया में तो बहुत ही तेजी से फैल रहा है यह इंडोनेशिया के लिए चिंता का कारण बना हुआ है ! एक दिन में 21,000 से अधिक मामले आह गए है  जो अपने आप में एक बहुत बड़ा रिकॉर्ड है ! इसी के साथ पूरे रूस में जून के मध्य से डेल्टा वेरिएंट द्वारा संचालित नए संक्रमणों का विस्फोट भी देखा है ! वह डेल्टा वेरिएंट के मामले दक्षिण पूर्व एशिया और ऑस्ट्रेलिया में बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं ! सभी अधिकारियों का कहना है कि डेल्टा प्लस वेरिएंट के कारण से कोरोना ने एक बार फिर अपने पांव पसारना शुरू कर दिया है !

भारत में वायरस का फैलाव (virus spread in india)

भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से तेजी से फैलने की अहम कारण ही डेल्टा वेरिएंट को ही माना जाता है ! कोरोना संक्रमण के डबल म्यूटेंट यानी डेल्टा वेरिएंट का पहला मामला भी महाराष्ट्र में ही सामने आया था ! पूरे देश में कोरोना संक्रमण के तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है ! और अभी लोक डाउन पूरी तरह से खुला ही नहीं की उस से पहले ही नए वेरिएंट डेल्टा प्लस का सामने आना बहुत ही चिंता बढ़ा रहा है !

राजस्थान में डेल्टा वेरिएंट (Delta Variants in Rajasthan)

राजस्थान के बीकानेर जिले में पहला सक्रमित पाया गया है ! और नागौर के मकराना तहसील में 5 सक्रमित पाए गये है !

  • राजस्थान सरकार अलर्ट 
कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर राजस्थान सरकार अलर्ट है ! राज्य के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार इसे लेकर पूरी तरह सतर्क है ! और संक्रमण रोकने के लिए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं ! बीकानेर में इस वेरिएंट का एक मरीज मिला है ! जो कि अब संक्रमण से उबर गया है ! राज्य में नए वैरिएंट को फैलने से रोकने के लिए ! बीकानेर में कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का काम व्यापक स्तर पर शुरू कर दिया गया है !

डेल्टा और डेल्टा प्लस वेरिएंट में अंतर (Difference Between Delta and Delta Plus Variants)

डेल्टा वेरिएंट पहली बार भारत में ही पाया गया है ! देश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान वायरस की चपेट में आए ज्यादातर लोग इसी वेरिएंट के ही शिकार हुए थे ! और अब वैज्ञानिकों ने दावा भी किया है कि डेल्टा वेरिएंट ही विकसित होकर अब डेल्टा प्लस वेरिएंट बन गया है ! और डेल्टा प्लस भारत में सबसे पहले सामने आए डेल्टा या B 1.617.2 वेरिएंट में उत्परिवर्तन से बना !
भारत में संक्रमण की दूसरी लहर आने की एक वजह डेल्टा ही था ! SARS-CoV-2 वायरस का डेल्टा वेरिएंट (B.617.2) भारत ही नहीं पूरी दुनिया के तमाम देशों ! में चिंता का विषय बना हुआ ! यह म्यूटेंट होकर डेल्टा प्लस या फिर B.1.617.2.1/AY.1 में भी तब्दील हो गया है डेल्टा वेरिएंट की स्पाइक में ! K417N म्यूटेशन जुड़ जाने का कारण Delta Plus वेरिएंट बना है !

वायरस के प्रति वैज्ञानिकों की आशंका (Delta virus)

डेल्टा प्लस वैरिएंट पर भारत में हाल ही में अधिकृत मोनोक्लोनल एंटीबॉडी कॉकटेल ज्यादा असरदायक नहीं है ! ये कॉकटेल कासिरिविमैब और इम्देवीमैब वायरस को मानव कोशिकाओं से जुड़ने और शरीर में प्रवेश करने से रोकने के लिए ! डिजाइन किए गए हैं और एंटीबॉडी के समान हैं जो मानव शरीर स्वाभाविक रूप से बीमारी से बचाव के लिए पैदा करता है !
और इधर व्हाइट हाउस के मुख्य चिकित्सा सलाहकार डॉ. एंथनी फाउची ने चेतावनी दी है ! की बेहद संक्रामक वेरिएंट डेल्टा महामारी का सफाया करने के प्रयासों के लिए सबसे बड़ा खतरा है ! अमेरिका में सामने आने वाले कोरोना के नए मामलों में से 20 फीसदी से अधिक में संक्रमण की वजह Delta Plus वेरिएंट है ! उन्होंने कहा कि दो हफ्ते पहले तक नए मामलों में से 10 फीसदी में यह वेरिएंट पाया गया था !

कोरोना का नया रूप डेल्टा प्लस वैरिएंट के बारे में (Corona’s new look about the Delta Plus variant)

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप के बीच अब डेल्टा प्लस वैरिएंट ने भारत में दस्तक दे दी है ! डेल्टा प्लस वैरिएंट को बी.1.617.2 स्ट्रेन भी कहते हैं ! खास बात है कि कोरोना वायरस के रूप में बदलावों की वजह से डेल्टा प्लस वैरिएंट बना है ! भारत के अलावा कई दूसरे देशों में भी इसके मामले सामने आ रहे हैं !
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्य के मुख्य सचिवों को भेजे पत्र और वैक्सीन और टेस्टिंग पर पूरा जोर देने को कहा है !
केंद्र के स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्य के मुख्य सचिवों को भेजे गए एक पत्र में कहा है ! कि जल्दी से जल्दी और प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलाएं जाए ! और बड़े पैमाने पर टेस्टिंग को बढ़ाएं उन्होंने कहा कि इस मामले ज्यादा फोकस करते हुए ! नियमों को सख्त बनाना बहुत ही जरूरी है उन्होंने सभी राज्यों से कहा है ! कि कंटेन्मेंट वाले जिलों में भीड़ को रोकने और लोगों के आपस में मिलने से रोकने के तत्काल उपाय किए जाएं !
  • केंद्र सरकार की तरफ से Delta Plus को पहले ही चिंता का एक वेरिएंट घोषित किया जा चुका है !

डेल्टा प्लस वैरिएंट के लक्षण (Characteristics of Delta Plus Variant)

कोरोना वायरस के नए डेल्टा प्लस वैरिएंट के अलग-अलग लक्षण देखने को मिल रहे हैं !
 डेल्टा प्लस के लक्षणों के बारे में
  • बुखार, सूखी खांसी और थकान महसूस होना
  • सीने में दर्द होना
  • सांस फूलना और सांस लेने में तकलीफ होना
  • इसके अलावा स्किन पर चकत्ते पड़ना
  • पैर की उंगलियों का रंग बदलना
  • सामान्य लक्षणों में गले में खराश
  • स्वाद और महक चले जाना
  • सिरदर्द और लूज मोशन की दिक्कत

इस तरह से करें Delta Plus वायरस से बचाव (In this way protect against Delta Plus virus)

  • घर से बाहर निकलते वक्त डबल मास्क लगाएं
  • सैनिटाइजर का यूज करें
  • जरूरी हो तभी घर पर निकले
  • घर से बाहर निकले तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें
  • जब भी बाहर से घर आएं तो हाथों को करीब 20 सेकेंड तक अच्छे से धोएं
  • बाहर से लाए हुए सामान को डिसइंफेक्ट करें

सरकार ने  कई राज्यों को लिखा है पत्र (Delta Plus virus in hindi)

केंद्र सरकार ने आठ राज्यों को पत्र लिखकर आगाह किया है ! और डेल्टा प्लस वाले जिलों में कंटेनमेंट के उपाय करने और जांच बढ़ाएं ! 25 जून को लिखे पत्र में सरकारी की ओर से कहा गया है कि कर्नाटक राज्य के मैसूरु जिले में Delta Plus वैरिएंट पाया गया है ! उन्होंने इस जिले, खासकर जिस क्षेत्र में नया वैरिएंट पाया गया है ! वहां कंटेनमेंट के उपाय करने को कहा है ! भीड़ को रोकने, जांच बढ़ाने, ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीके लगाने और संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की तत्काल पहचान करने को कहा है !

अधिक जानकारी—–


Leave a Comment